मोदी सर्कार को राहुल गाँधी ने घेरा कहा RBI के बैंक के चोरो के लिस्ट में BJP मित्र, शेयर की VIDEO क्लिप अपने सोशल मीडिया साइट पर

Political

कोरोना वायरस से जंग के साथ-साथ कांग्रेस बनाम केंद्र सरकार के बीच भी देश के भीतर जुबानी लड़ाई जारी है. कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर तंज कसती आ रही है. इसी कड़ी में एक बार कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर ट्वीट कर हमला करते हुए कहा कि

संसद में मैंने एक सीधा सा प्रश्न पूछा था- मुझे देश के 50 सबसे बड़े बैंक चोरों के नाम बताइए. लेकिन वित्त मंत्री ने जवाब देने से मना कर दिया. अब RBI ने नीरव मोदी, मेहुल चोकसी सहित बीजेपी के ‘मित्रों’ के नाम बैंक चोरों की लिस्ट में डाले हैं. क्या इसीलिए संसद में इस सच को छुपाया गया. राजीव गांधी ने लोकसभा में बैंकिंग फ्रॉड का मामला मार्च में बजट सत्र के दौरान उठाया था. भारतीय रिजर्व बैंक ने एक आरटीआई में स्वीकार किया है कि उसने शीर्ष 50 विलफुल डिफॉल्टर्स के 68,607 करोड़ की बड़ी रकम बट्टा खाते में डाल दी है.

बता दें कि इन डिफाल्टर्स की सूची मेहुल चोकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स लिमिटेड शीर्ष पर है, जिस पर 5,492 करोड़ रुपये का कर्ज है. इसके अलावा, गिली इंडिया लिमिटेड और नक्षत्र ब्रांड्स लिमिटेड ने क्रमश 1,447 करोड़ रुपये और 1,109 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था. चोकसी इस समय एंटीगुआ और बारबाडोस द्वीप समूह के नागरिक है जबकि उसका भांजा व भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी इस समय लंदन में है. सूची में आगे 4000 करोड़ रुपये के बै्रकेट में भगोड़ा हीरा कारोबारी जतिन मेहता की कंपनी विन्सम डायमंड एंड ज्वेलरी का नाम है जिस पर 4,076 करोड़ रुपये का कर्ज है. इसके बाद 2000 करोड़ रुपए की श्रेणी में कानपुर की कंपनी रोटोमक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड है जोकि जाने माने कोठारी समूह की कंपनी है, जिस पर 2850 करोड़ रुपए का कर्ज है.

राहुल गांधी का ट्वीट:-

संसद में मैंने एक सीधा सा प्रश्न पूछा था- मुझे देश के 50 सबसे बड़े बैंक चोरों के नाम बताइए।

वित्तमंत्री ने जवाब देने से मना कर दिया।

अब RBI ने नीरव मोदी, मेहुल चोकसी सहित भाजपा के ‘मित्रों’ के नाम बैंक चोरों की लिस्ट में डाले हैं।

इसीलिए संसद में इस सच को छुपाया गया। pic.twitter.com/xVAkxrxyVM

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) April 28, 2020

गौरतलब हो कि इससे पहले राहुल गांधी ने चीन से आयात की कई किट पर ‘मुनाफाखोरी’ के दावे वाली खबरों को लेकर सोमवार को कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को ‘अनुचित मुनाफा’ कमाने वालों पर कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने एक खबर का हवाला देते हुए ट्वीट किया, जब समूचा देश कोविड-19 आपदा से लड़ रहा है, तब भी कुछ लोग अनुचित मुनाफ़ा कमाने से नहीं चूकते. इस भ्रष्ट मानसिकता पर शर्म आती है, घिन आती है. गांधी ने कहा, हम प्रधानमंत्री से मांग करते हैं कि इन मुनाफ़ाख़ोरों पर जल्द ही कड़ी कार्रवाई की जाए. ( आईएएनएस इनपुट)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *